जम्मू-कश्मीर: आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के परिजनों का किया अपहरण, 24 घंटे में 9 अगवा

0
86

दक्षिणी कश्मीर के तीन जिलों कुलगाम, अनंतनाग व पुलवामा से आतंकियों ने गुरुवार को आठ पुलिसकर्मियों के परिजनों का अपहरण कर लिया। इनमें एक डीएसपी व एक एसएचओ का भाई है।

पिछले 24 घंटे में नौ पुलिसकर्मियों के परिवार वालों के अगुआ होने के बाद पूरी घाटी में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। डीजीपी डॉ. एसपी वैद का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है।

आतंकियों ने पहले भी धमकी दी थी कि यदि उनके परिवार वालों के साथ ज्यादती की गई तो सुरक्षाबलों के परिवार भी सुरक्षित नहीं रह पाएंगे। वीरवार को आतंकी रियाज नायकू के पिता को पूछताछ के लिए उठाए जाने,दो आतंकियों के घर जलाए जाने और आतंकी सैयद सलाहुदीन के दूसरे बेटे को एनआईए की ओर से गिरफ्तार किए जाने के बाद अपहरण की घटनाएं सामने आई हैं।

माना जा रहा है कि परिवार वालों के साथ सुरक्षा बलों की ओर से सख्ती किए जाने पर बौखलाए आतंकियों ने अपहरण की वारदातों को अंजाम दिया।

वीरवार को पहले तीन पुलिसकर्मियों के परिजनों के अपहरण की बात सामने आई। फिर यह संख्या बढ़कर पांच हुई और देर रात आठ हो गई। जिनका अपहरण हुआ है उसमें आरवानी बिजबिहाड़ा निवासी पुलिसकर्मी मोहम्मद मकबूल भट के बेटे जुबैर अहमद भट, आरवानी निवासी एसएचओ नजीर अहमद संकार के भाई आरिफ अहमद संकार,खारपोरा कुलगाम निवासी बशीर अहमद मकरू का बेटा फैजान अहमद मकरू, यारीपोरा कुलगाम के  अब्दुल सलाम राथर का बेटा सुमर अहमद राथर व डीएसपी एजाज का भाई गौहर अहमद मलिक शामिल है।

इसके साथ ही आतंकियों ने पुलवामा जिले के कंगन से पुलिसकर्मी के भाई,काकपोरा व मिदूरा-त्राल से दो पुलिसकर्मियों के बेटे का अपहरण कर लिया है। मिदूरा से पुलिसकर्मी गुलाम हसन मीर के बेटे नसीर अहमद मीर को अगवा करने की सूचना है।

अगवा पुलिसकर्मी के बेटे का सुराग नहीं

श्रीनगर। पुलवामा जिले के त्राल से बुधवार को अगवा किए गए पुलिसकर्मी के बेटे का फिलहाल सुराग नहीं लग पाया है। सुरक्षा बलों की ओर से सर्च आपरेशन चलाया जा रहा है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here